यूक्रेन पर हमले को लेकर क्या होगी पुतिन की गिरफ्तारी? सामने आया ये बड़ा अपडेट।

यूक्रेन के खिलाफ रूस का स्पेशल मिलिट्री ऑपरेशन (Russia Ukraine War) अब भी जारी है. इसी बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) की गिरफ्तारी की मांग जोर पकड़ने लगी है.

क्या यूक्रेन के खिलाफ स्पेशल मिलिट्री ऑपरेशन चला रहे रूस (Russia Ukraine War) के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) की गिरफ्तारी की जा सकती है. यह सवाल जिनेवा स्थित इंटरनेशनल क्राइम कोर्ट (ICC) में उठाया गया है.

पुतिन के खिलाफ वारंट जारी करने की मांग

कोर्ट की पूर्व चीफ प्रोसीक्यूटर कार्ला डेल पोंटे ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय गिरफ्तारी वारंट जारी करने की मांग की है. कार्ला डेल पोंटे ने शनिवार को स्विस अखबार ले टेम्प्स में प्रकाशित एक इंटरव्यू में कहा कि पुतिन एक युद्ध अपराधी हैं.

‘यूक्रेन में हो रहा युद्ध अपराध’

पोंटे ने अपनी नई किताब के विमोचन पर कहा, ‘यूक्रेन में स्पष्ट रूप से युद्ध अपराध हो रहा है. यूक्रेन के खिलाफ रूस के युद्ध (Russia Ukraine War) में सामूहिक कब्र देखकर मैं हैरत में हूं. इसे देखकर मेरे दिमाग में यूगोस्लाविया में युद्ध का भीषणतम रूप उभरने लगता है.

‘पोंटे ने इंटरव्यू में कहा, ‘मुझे आशा है कि सामूहिक कब्र फिर कभी नहीं दिखेंगी. इन मृत लोगों के प्रियजन यह भी नहीं जानते कि उन्हें क्या हो गया है. यह अस्वीकार्य है.

‘चीफ प्रोसीक्यूटर ने किया था यूक्रेन का दौरा

उन्होंने कहा कि यूक्रेन (Russia Ukraine War) में जांच यूगोस्लाविया की तुलना में आसान होगी क्योंकि देश ने खुद अंतरराष्ट्रीय जांच का अनुरोध किया है. आईसीसी के मौजूदा चीफ प्रोसीक्यूटर करीम खान ने पिछले महीने यूक्रेन का दौरा किया था.

‘पुतिन को न्याय के कटघरे में लाना जरूरी’

उन्होंने कहा कि अगर आईसीसी को युद्ध अपराध के सबूत मिलते हैं तो तब तक प्रयास जारी रखा जाना चाहिए. जब तक कि इसका आदेश देने वालों तक नहीं पहुंचा जाता. पोंटे ने कहा कि इससे पुतिन (Vladimir Putin) को भी न्याय के कठघरे में लाना संभव होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.