अमेरिकियों को पछाड़ दुनिया की टॉप 10 सेल्‍फ मेड अरबपति महिलाओं में शामिल हुई यह भारतीय! जानिए आखिर कौन हैं?

दुनिया की सेल्‍फ मेड अरबपति महिलाओं की एक लिस्‍ट जारी की गई है, जिसके टॉप-10 नामों में भारतीय महिला का नाम भी शामिल है. वहीं इन 10 में से 8 महिलाएं चीन की हैं.

अमीर होने और अपने दम पर अमीर बनने में बहुत फर्क है. इसी फर्क पर जोर देते हुए हुरुन रिसर्च इंस्टीट्यूट ने हुरुन रेचेस्ट सेल्फ वूमेन इन द वर्ल्ड 2022 (Hurun Richest Self-Made Women in the World 2022) नाम से एक लिस्‍ट जारी की है. इसमें उन महिलाओं को जगह दी गई है जो अपने दम पर अरबपति बनी हैं. उन्‍होंने यह पैसा अपनी मेहनत और लगन से कमाया है ना कि उन्‍हें पारिवारिक विरासत में मिला है. इस लिस्‍ट में सबसे ज्‍यादा 78 अरबपति महिलाएं चीन की हैं. इसके बाद अमेरिका की 25 और यूके की 5 अरबपति महिलाएं शामिल हैं.

भारत की फाल्‍गुनी नायर टॉप -10 में

हुरुन के इस लिस्ट में भारतीय महिलाएं भी जगह पाने में कामयाब रही हैं. हालांकि लंबे समय तक सेल्‍फ मेड वूमेन के ताज की हकदार रहीं बायोकॉन की किरण मजूमदार शॉ इस बार पीछे हो गईं हैं. उन्‍हें भारतीय कंपनी नायका की फाउंडर फाल्गुनी नायर (Indian company Nykaa’s founder Falguni Nayar) ने पीछे छोड़ा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फाल्‍गुनी नायर 7.6 बिलियन डॉलर की संपत्ति के साथ दुनिया के टॉप-10 सेल्फ मेड अरबपति महिलाओं में शामिल हो गईं हैं. इन टॉप-10 महिलाओं में से 8 महिलाएं चीन की हैं.

सबसे ज्‍यादा अरबपति महिलाएं बीजिंग में

दुनिया की सबसे ज्‍यादा सेल्‍फ मेड वूमेन चीन की राजधानी बीजिंग में रहती हैं. यहां ऐसी 14 अरबपति महिलाएं रहती हैं. चौंकाने वाली बात ये भी है कि दुनिया के जिन 5 शहरों में सबसे ज्‍यादा अरबपति महिलाएं रहती हैं, वे सारे चीनी शहर हैं. अमेरिका का इनमें कोई नामो-निशान नहीं है. दुनिया के रिचेस्‍ट सेल्‍फ मेड वूमेन की लिस्‍ट में पहला स्‍थान बीजिंग की 58 वर्षीय वू याजुन का है, जिनकी अनुमानित संपत्ति 17 बिलियन डॉलर है.

इतना ही नहीं पूरी दुनिया में केवल 16 देशों की 124 महिलाएं ही सेल्‍फ मेड बिलियनेयर हैं, यानी कि बाकी देशों से एक भी महिलाएं इस सूची में नहीं हैं. जबकि इनमें जापान, जर्मनी, फ्रांस, कनाडा जैसे विकसित देश भी शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.