बिहार विधानसभा चुनाव से पहले संगठन को मजबूत करने के लिए लगातार बैठकें कर रहे हैं कांग्रेसी नेता बिहार

विधानसभा चुनाव से पहले सभी दलों के नेता अपनी पार्टी के प्रचार और संगठन को मजबूत करने के लिए लगातार कोशिशें के रहे हैं. बिहार में नेताओं के दल बदल का सिलसिला भी तेजी से चल रहा है. चुनाव आयोग ने अभी तक तारीखों का एलान नहीं किया है मगर चुनाव की तैयारियां चल रही हैं. बिहार कांग्रेस के तमाम दिग्गज नेता अपनी पार्टी के संगठन को मजबूत करने, नए लोगों को पार्टी से जोड़ने और चुनाव प्रचार अभियान की रणनीति बनाने में जुटे हुए हैं. इसी क्रम में आज पूर्व विधायक और रोहतास जिला प्रभारी नरेंद्र कुमार, पूर्व विधान परिषद सदस्य डॉक्टर अजय, बिहार युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ललन कुमार यादव, रोहतास जिले के पर्यवेक्षक संतोष पांडेय, पूर्व विधायक मुरारी गौतम, भास्कर पाठक, अमर यादव और जिलाध्यक्ष संतोष कुमार मिश्रा ने रोहतास जिले में बैठक की और आगामी चुनाव की रणनीति पर विस्तार से चर्चा की. बिहार विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने 15 साल बिहार हुआ बेहाल और बोलो बिहार बदलो सरकार के नारे के साथ नितीश सरकार को घेरने का अभियान चला रखा है. बता दें कि वर्तमान समय में कोरोना के बढ़ते मामलों के साथ-साथ बिहार के लगभग 16 जिले बाढ़ की चपेट में हैं. लॉकडाउन और बाढ़ के दोहरे संकट की वजह से आम लोगों के सामने रोजी-रोटी का गंभीर संकट खड़ा हो गया है. ऐसे में कांग्रेस सहित तमाम विपक्षी दलों की मांग है कि फिलहाल चुनाव को टाल दिया दिया जाए.