बिहार सरकार ट्रांसपोर्टरों को बहुत जल्द देगी चुनावी सौगात,राहत देने की चल रही तैयारी…

बिहार के ट्रांसपोर्टरों को बहुत जल्द चुनावी सौगात मिल सकती है।कोरोना संक्रमण की वजह से ट्रांसपोर्ट व्यवसाय से जुड़े करीब तीन लाख से अधिक कारोबारियों को सरकार चुनावी सौगात देने की तैयारी में जुटी है। वैसे परिवहन विभाग पहले ही 3 महीने के टैक्स में 40 फ़ीसदी की छूट दे चुका है, अब आगे भी 3 महीने के टैक्स में राहत देने की तैयारी चल रही है।

 हालांकि परिवहन विभाग ने अभी तक कोई फाइनल निर्णय नहीं लिया है।लेकिन अंदर ही अंदर इसकी तैयारी तेजी से चल रही है। ट्रांसपोर्टरों ने पिछले दिनों बिहार सरकार को अपनी परेशानी से अवगत कराया था। दूसरे प्रदेशों में सरकार द्वारा ट्रांसपोर्टरों को दी गई राहत और रियायत के बारे में सूचित किया था। बताया जाता है कि बिहार के कुल वोटों में करीब 8 फ़ीसदी ऐसे लोग हैं जो प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से इस कारोबार से जुड़े हैं। यही वजह है कि सरकार इस बड़े वोट बैंक को खुश करने को लेकर ट्रांसपोर्टरों को बड़ी रियायत दे सकती हैं।

 बिहार ट्रांसपोर्ट फेडरेशन के अध्यक्ष उदय शंकर सिंह का दावा है कि इस कारोबार में डेढ़ करोड़ से अधिक लोगों का जीविकोपार्जन होता है। कोरोना संकट की वजह से 65000 बसों का परिचालन ठप है।ऐसे में ट्रांसपोर्टरो के लिए बड़ी मुसीबत हो गयी है।