बिहार में बेकाबू कोरोना की रफ़्तार 30 हज़ार के पार, पटना में 452 पॉजिटिव मामले…

बिहार में बेकाबू कोरोना 30 हज़ार के पार हो गया है. स्वास्थ्य विभाग की तरफ से 22 जुलाई को जारी स्वास्थ्य विभाग के आंकड़े के मुताबिक़ 20 जुलाई को 772 नए मामलों की पुष्टि हुई है जबकि 21 जुलाई को 730 मामलों की पुष्टि हुई है. जैसे साथ हैं राज्य में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 30066 पर पहुंच गई है.

स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी आंकड़ों की बात करें तो 24 घंटे में राजधानी पटना में सबसे ज्यादा 452 नए मामलों की पुष्टि हुई है. 20 जुलाई की बात करें तो जिन जिलों में सबसे ज्यादा संक्रमण के मामले सामने आए हैं. उसमें राजधानी पटना में 278, रोहतास में 67, सारण में 37, पूर्णिया में 47, जमुई में 34, गया में 29, भागलपुर में 48, औरंगाबाद में 29 मामले सामने आए हैं.सूबे के 38 में से 35 जिलों में नए मामलों की पुष्टि हुई है.

 वही 21 जुलाई की बात करें तो राज्य में एक साथ 730 नए मामलों की पुष्टि हुई है. जिन जिलों में सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं उसमें राजधानी पटना में 174, मुजफ्फरपुर में 113, गया में 54, वैशाली में 46 और पश्चिमी चंपारण में 24 मामले सामने आए हैं. वही बरेली के एक युवक भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है जिसकी जांच मुजफ्फरपुर में की गई थी.

बिहार में कोरोना संक्रमणसे कोई भी तबका अछूता नहीं है. महामारी का इलाज करने वाले डॉक्‍टरों. सहित चिकित्‍सा कर्मी भी इससे प्रभावित हैं. डॉक्‍टरों की बात करें तो पटना के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान में कोरोना से तीन की मौत  हो चुकी है. एक डॉक्‍टर समस्‍तीपुर के सिविल सर्जन की मौत तो बुधवार को ही हुई है. पटना एम्‍स में वर्तमान में 30 कोरोना संक्रमित डॉक्‍टर भर्ती हैं, जिनमें कुछ की हालत गंभीर बताई जा रही है. पूरे बिहार की बात करें तो करीब 50 डॉक्‍टरों के कोरोना संक्रमित बताए जा रहे हैं.जबकि चार डॉक्‍टरों की मौत हुई है.

Leave a Comment