कोरोना संकट में बिहार के सरकारी स्कूल के ‘गुरूजी’ अब बांटेंगे अनाज,अभिभावकों को स्कूल में बुलाकर देंगे खाद्धान

बिहार में कोरोना का संकट गहरा गया है। बावजूद इसके सरकार शिक्षकों को बच्चों के अभिभावकों के बीच खाद्यान्न वितरण की ड्यूटी लगा दिया है। इस संबंध में मध्यान्ह भोजन योजना के निदेशक ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी और एमडीएम डीपीओ को पत्र भेज कोरोना काल में लॉकडाउन की वजह से विद्यालय बंदी के दौरान बच्चों के बीच खाद्यान्न वितरण करने को कहा है।

अपने पत्र में शिक्षा विभाग ने उल्लेख किया है कि यह आशंका जताई जा रही है कि लॉकडाउन की स्थिति में खाद्यान्न का वितरण होगा या नहीं।इस संबंध में स्पष्ट करना है कि शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव ने 6 जुलाई को ही खाद्यान्न वितरण करने का निर्देश दिया था ।लॉक डाउन की स्थिति में विद्यालय बंद की अवधि के लिए खाद्यान्न वितरण करने को कहा गया था।

लॉक डाउन की स्थिति में कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव हेतु सभी एहतियात कदम उठाएं और खाद्यान्न का वितरण करें। शिक्षा विभाग ने कहा है कि इसके लिए कक्षावार तिथि निर्धारित कर रोस्टर के अनुसार बच्चों के अभिभावक विद्यालय में बुलाएं, मास्क का प्रयोग करें, फिजिकल डिस्टेंस सुनिश्चित करें।

Leave a Comment