छूट के साथ कुछ बंदिशें, मंद रफ्तार में पटरी की तरफ लौट रही जिंदगी

समस्तीपुर । लॉकडाउन में छूट मिलने के बाद बाजार व्यवस्था बदल गई है। हालांकि, अगले सप्ताह से इसमें और बदलाव दिखेगा। फिलहाल, कंटेनमेंट जोन से बाहर दुकानों को खोलने की छूट दी गई है। वाहनों पर क्षमता के अनुसार पब्लिक ट्रांसपोर्ट की भी अनुमति दी गई है। जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने बताया कि जिले में कंटेनमेंट जोन को छोड़कर सुबह पांच से रात के नौ बजे तक दुकानों को खोलने की छूट दी गई है। अब व्यावसायिक गतिविधियां नौ बजे तक हो सकती हैं। इस दौरान लोगों को चेहरे पर मास्क लगाना अनिवार्य है। शारीरिक दूरी और नियमों का पालन करना होगा। दुकानों में सैनिटाइजर और भीड़ नियंत्रित करना होगा। अनुमंडल मुख्यालयों में कंटेनमेंट क्षेत्र को छोड़कर सभी दुकानें खुलेंगी।

पब्लिक वाहन को करना होगा सैनिटाइज

जिलाधिकारी ने बताया कि वाहनों पर क्षमतानुसार पब्लिक ट्रांसपोर्ट की अनुमति दी गई है। लेकिन, वाहनों को बार-बार सैनिटाइज करना होगा। सीमित संख्या में ही यात्रियों को बैठाना होगा। आठ जून से मंदिर और धाíमक स्थलों को भी खोला जाएगा। मॉल, रेस्टोरेंट और आतिथ्य सेवाएं शुरू की जाएंगी। वर्तमान में सिनेमा हॉल, जिम, थियेटर, सभागार, मनोरंजन हॉल, सामाजिक, राजनीतिक और धाíमक समारोह व समागम बड़े जमावड़े वाले आयोजन पूर्व की तरह बंद ही रहेंगे। सार्वजनिक स्थलों पर जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को मास्क लगाने के लिए प्रेरित किया जाएगा। जिलाधिकारी ने बताया कि अलगे चरण में जुलाई माह तक स्कूल, कॉलेज, प्रशिक्षण संस्थान समेत शैक्षणिक संस्थाओं के खुलने के आसार हैं। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा गाइडलाइन जारी की जाएगी। रेस्टोरेंट में बैठकर खाने की अनुमति आठ के बाद

जिले में आठ जून के बाद पूजा आमजन के लिए पूजा स्थल, धाíमक स्थल, होटल, रेस्टोरेंट एवं अन्य आतिथ्य सेवाएं शुरू की जाएंगी। रेस्टोरेंट खुलेंगे, लेकिन फिलहाल खाद्य सामग्री घर ले जा सकते हैं। ऐसी दुकानें होम डिलीवरी भी कर सकती हैं। होटलों में बैठकर खाने की छूट आठ के जून के बाद ही मिलेगी। सार्वजनिक जगहों पर शराब, पान, गुटखा, तंबाकू आदि का सेवन और थूकना दंडनीय होगा। कंटेनमेंट जोन में प्रतिबंध 30 जून तक

कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन की अविधि 30 जून तक बढ़ा दी गई है। इसलिए यहां छूट नहीं होगी। यहां केवल आवश्यक सेवाएं ही बहाल रहेगी। मेडिकल एवं अन्य जरुरी सेवाएं से संबंधित दुकानें ही खुलेंगी। समय-समय पर कोरोना संक्रमण की स्थिति का जायजा लिया जाएगा।