25 साल से कम उम्र के लोग हो रहे परेशान, युवाओं को शिकार बना रही है ये खास तरह की डायबिटीज।

डायबिटीज की परेशानी का अब उम्र से कोई लेना देना नहीं है. आजकल 25 साल से कम एज ग्रुप के लोगों को भी मधुमेह हो रहा है. इसे वक्त रहते पहचानना बेहद जरूरी है.

भारत में ज्यादातर लोग डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारी से परेशान हैं. ये एक बार किसी को हो जाए तो ताउम्र पीछा नहीं छोड़ती. आजकल बदलती हुई लाइफस्टाइल की वजह से 25 से कम उम्र के युवा भी मधुमेह का शिकार हो रहे हैं. इस एज ग्रुप को एक खास तरह की डायबिटीज परेशान कर रही है. जिसका नाम है एमओडीवाई यानि मैच्योरिटी ऑनसेट डायबिटीज ऑफ द यंग (MODY- Maturity Onset Diabetes of The Young).

युवाओं को परेशान कर रही है ये बीमारी

एमओडीवाई (MODY) से परेशान युवाओं की बात करें तो महज 1 से 4 फीसदी मरीजों की ही समस्या दूर हो पाती हैं. आइए जानते हैं कि इस गंभीर बीमारी से बचने का क्या उपाय है और इसके लक्षण आखिर क्या हैं जिन्हें वक्त रहते पहचानना बेहद जरूरी है.

लाइफस्टाइल में चेंज लाना जरूरी

ऐसा जरूरी नहीं की इसके कुछ लक्षण आपको दिखाई दें. ये लक्षण केवल रक्त शर्करा परीक्षण द्वारा ही पता चल सकते हैं. चूंकि इसके लक्षण टाइप 1 और टाइप 2 मधुमेह के साथ ओवरलैप हो सकते हैं, ऐसे में गलत निदान का जोखिम बढ़ जाता है. MODY के कुछ रूपों को जीवनशैली में बदलाव करके रोका जा सकता है. वहीं कुछ को प्रकार के आधार पर दवा या इंसुलिन की जरूरत पड़ती है.

अगर आपको MODY है तो क्या करें?

सबसे पहले इस बीमारी के प्रकार के बारे में जानें उसके बाद मधुमेह के लिए सही इलाज और सलाह लें.अगर पैरेंट MODY के किसी प्रकार से गुजरे हैं तो बच्चों को 50 फीसदी इस समस्या का जोखिम बढ़ सकता है.बेहतर है कि परिवार के अन्य सदस्य भी चेकअप करवाएं.

MODY के मुख्य प्रकार

1 – HNF1-alpha

2 – HNF4-alpha

3 – HNF1-beta

4 – Glucokinase

Leave a Reply

Your email address will not be published.